तिहाड़ जेल में विचाराधीन कैदी की मौत के मामले में केस दर्ज, CBI करेगी जांच

<p style="text-align: justify;"><strong>नई दिल्ली:</strong> केंद्रीय जांच ब्यूरो ने केंद्रीय कारागार तिहाड़ नंबर दो में एक विचाराधीन कैदी की मौत के मामले में दिल्ली हाईकोर्ट के निर्देश पर मामला दर्ज किया है. आरोप है कि उक्त विचाराधीन कैदी की उसके साथियों ने कथित रूप से पीट-पीटकर हत्या कर दी थी. अब सीबीआई इस बात की जांच भी करेगी की इस मामले में जेल कर्मियों की लापरवाही भी तो नहीं है.</p>
<p style="text-align: justify;">सीबीआई के मुताबिक तिहाड़ जेल की जेल नंबर दो के अंतर्गत बैरक संख्या 4 वार्ड संख्या 2 में श्रीकांत रामास्वामी नाम का एक विचाराधीन कैदी बंद था. इस वार्ड में अन्य कैदी भी बंद थे. 14 मई 2021 को विचाराधीन कैदी श्रीकांत रामास्वामी की रहस्यमयी स्थितियों में मौत हो गई थी. आरंभिक जांच के दौरान पता चला था कि उसे उसके साथ बंद चार कैदियों ने किसी विवाद को लेकर पीटा था. गंभीर रूप से घायल श्रीकांत रामास्वामी को तिहाड़ जेल प्रशासन ने सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया था. जहां इस पिटाई के दौरान गंभीर चोट लगने पर उसकी मौत हो गई थी.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>FIR दर्ज</strong></p>
<p style="text-align: justify;">आरंभिक जांच के बाद पश्चिमी दिल्ली के हरिनगर पुलिस थाने ने इस मामले में FIR नंबर 243/2021 दर्ज की थी और श्रीकांत रामास्वामी के साथ बंद चार अन्य विचाराधीन कैदियों को गिरफ्तार किया था. बताया जाता है कि पुलिस की जांच से मृतक कैदी के रिश्तेदार नाखुश थे. इसके बाद इस बाबत दिल्ली उच्च न्यायालय में आपराधिक संख्या याचिका 1105/2021 डाली गई और इस पूरे मामले की सीबीआई से जांच करने का अनुरोध किया गया. हाईकोर्ट ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद केंद्रीय जांच ब्यूरो को निर्देश दिया कि वह इस बाबत अपने यहां मुकदमा दर्ज करे और मामले की जांच करे.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>सीबीआई करेगी जांच</strong></p>
<p style="text-align: justify;">सीबीआई के अधिकारी के मुताबिक इस जांच के दौरान यह भी देखा जाएगा कि जिस समय कथित तौर पर मारपीट हो रही थी, वहां तिहाड़ जेल का कौन सा कर्मचारी तैनात था और क्या इस मारपीट की आवाज उक्त कर्मचारी के कानों तक नहीं पहुंची. साथ ही तिहाड़ जेल में जगह-जगह सीसीटीवी लगाए गए हैं. जिससे कैदियों पर नजर रखी जाती है तो क्या वे सीसीटीवी उस दिन खराब थे या फिर उस बैरक में सीसीटीवी थे ही नहीं? सीबीआई इस बात की भी जांच करेगी कि इस पूरे मामले में कहीं तिहाड़ जेल कर्मियों की लापरवाही तो नहीं है. सीबीआई इस बाबत दिल्ली पुलिस के जरिए गिरफ्तार किए गए कथित चारों आरोपियों से ही पूछताछ करेगी. मामले की जांच जारी है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>यह भी पढ़ें: <a title="शराब के लिए 50 रुपये न देने पर 17 साल के नाबालिग ने 2 दोस्तों को चाकू से गोदा" href="https://www.abplive.com/news/india/a-17-year-old-boy-apprehended-in-delhi-for-allegedly-stabbing-his-two-friends-after-they-refused-to-give-him-rs-50-for-alcohol-1947457" target="_blank" rel="noopener">शराब के लिए 50 रुपये न देने पर 17 साल के नाबालिग ने 2 दोस्तों को चाकू से गोदा</a></strong></p>

Full Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Present Imperfect We would like to show you notifications for the latest news and updates.
Dismiss
Allow Notifications